ज्ञान गंगा : सच्‍चे भक्त में प्रकाशित हो

ज्ञान गंगा : सच्‍चे भक्त में प्रकाशित होते हैं परमात्‍मा – कोई ऐसा महापात्र सौभाग्यशाली होता है कि उसमें परमात्मा प्रकाशित होता है। किसी विरले भक्त में ही भक्ति इतनी बह उठती है। http://ow.ly/35un9G

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s